3 penit-clap
3
पुरानी बात

छूट रहा है साथ अब हो रहे है हम जुदा,

जो मरते थे कल तक हम पर, हो गए किसी और पर फिदा।

penit.ink 3 3 penit-clap
Please login to comment.
0 Comment

You May Also like...