0 penit-clap
0
बेहूदगी

सुनो कुछ और जानने को मिला मुझे

- हम मिले इसलिये थे क्योंकि कुछ बातें मिलती थी तुम्हारी मुझसे

अब जब तुम छोड़ ही गई हो तो सुनो

छोड़कर जाना तुम्हारी बेखुदी थी

और

तुम्हारी नाराजगी ~ तुमको बेहुदा बता रही हैं।

penit.ink 0 0 penit-clap
Please login to comment.
1 Comment

  • waah...

You May Also like...