वक़त, लगता है।
2 penit-clap
1
वक़त, लगता है।

नए शहर में अपना ढूंढने में वक़त लगता है।
जुदाई का आखिरी खत लिखने में वक़त तो लगता है।
बिखरा है जो भी समेटने में वक़त लगता है।
यकीन मानो मेरा माज़ी नाउम्मीद नहीं था।
बस, मीत नकामलय भरोसा था।
आखिर, वक़त की हिदायत में वक़त तो लगता है।

penit.ink 1 2 penit-clap
Please login to comment.
8 Comments

  • I'm younger than you sir:)

  • BTW am only 26 in case you are somewhere around then no need to call me sir, else still Faiz is cool, No need of sir.

  • Thanks for the appreciation sir. Will do.

  • that's nice of you.
    you write good. keep writing.

  • Idk... just assumed you were elder than me.

  • sir??
    what do you think my age is. HAHAHA

  • True! Sir. Thankyou!

  • waqt lag kr bhi waqt kabu aa jae to ganeemat hai.
    bhoot behtareen likha hai Sr...

You May Also like...