0 penit-clap
0
सोच

तुझ नाचीज़ से मोहब्बत करने की सोच ही रहा था कि 1 ख्याल आया ~~~ तु तो मेरी मौत पर भी नहीं रोंएगी

penit.ink 0 0 penit-clap
Please login to comment.
0 Comment

You May Also like...