ये किस अंदाज़ से तुमने मोहब्बत का सौदा किया,

ना दूसरे के लायक छोड़ा, ना खुद का होने दिया !