Rishi Bansal

No about



Don't Miss

Pain is not always in tears,Sometimes it's present in smile

अगर एहसास बयां हो जाते लफ्जों से तो...फिर कौन करता कदर खामोशियों की...?

Sukoon DhundhiyeJrurate to Kbhi puri nhi hoti

तरसती हुई निगाहे फरियाद कर रही है किसी को देखे हुए बहुत दिन गुजर गए |

पास आकर देख मेरे अहसास की सिद्धत ........

बहुत अंदर तक तबाही मचाते है वो आंसू ...

दिल का हाल .....